विश्व आदिवासी दिवस पर राज्य में होगा मेगा इवेंट..

झारखंड जनजातीय महोत्सव का आयोजन आने वाले 9 और 10 अगस्त को रांची के मोराबादी मैदान में होना है. इस महोत्सव में विभिन्न राज्यों के आदिवासी कला संस्कृति से जुड़े लोगों द्वारा अपनी अपनी प्रस्तुति दी जाएगी. इसके अलावा खेल प्रतियोगिता का भी आयोजन किया जाएगा जिसमें विभिन्न जिलों की टीम हिस्सा ले सकती है. इसके साथ ही प्रतियोगिता में विजय होने वाली टीम को पुरस्कृत भी किया जाएगा. मीडिया से बातचीत के दौरान आदिवासी कल्याण आयुक्त मुकेश कुमार ने कहा कि कार्यक्रम के तीन में मुख्य फोकस है. सबसे पहला एग्जिबिशन जिसमें अलग-अलग स्टॉल के जरिए ट्राइबल समाज द्वारा उत्पाद लोकल प्रोडक्ट का प्रदर्शन किया जाएगा. उन्होंने आगे बताया कि इसके लिए करीब 100 स्टॉल लगाए जाएंगे कहा कि राज्य के सभी जिलों की जो भी स्पेशलिटी है इस प्लेटफार्म के माध्यम से उसे दिखाया जाएगा.

मिस इंडिया कंटेस्टेंट्स रिया तिर्की को भी किया जाएगा आमंत्रित..
आयुक्त मुकेश कुमार ने बताया कि विश्व आदिवासी दिवस पर जनजातीय परिधान प्रदर्शन से संबंधित भी कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है. फैशन जगत से जुड़े लोगों को भी इस महोत्सव मैं शामिल होने का आमंत्रण दिया जाएगा. कार्यक्रम में मिस इंडिया कांटेस्ट रिया तिर्की भी आमंत्रित की जाएंगी.

आदिवासी समाज के विभिन्न मुद्दों को लेकर भी होगी चर्चा..
उन्होंने यह भी बताया कि इस दो दिवसीय कार्यक्रम के दौरान आदिवासी समाज के विभिन्न मुद्दों को लेकर भी चर्चा की जाएगी. इस चर्चा के लिए पैनल बैठाए जाएंगे जिसमें कि राज्य के नामचीन लोगों के साथ दूसरे देश की भी हस्तियां शामिल होंगी. इसमें लॉजिस्टिक की व्यवस्था राज्य सरकार एवं जिला प्रशासन द्वारा किया जाएगा. उन्होंने यह भी बताया कि आदिवासी समाज की जो सांस्कृतिक विरासत है. उसका प्रदर्शन भी किया जाएगा कार्यक्रम में आंध्र प्रदेश, छत्तीसगढ़, उड़ीसा, सिक्किम, नॉर्थ ईस्ट,इसके कई पार्टिसिपेंट के साथ झारखंड के स्थानीय कलाकारों को भी आमंत्रित किया जाएगा.

फूड स्टॉल के जरिए आदिवासी व्यंजनों का प्रमोशन..
इसके साथ ही उन्होंने बताया कि दो दिवसीय राज्य स्तरीय कार्यक्रम में फूड स्टॉल भी लगाए जाएंगे. जिनमें आदिवासी संस्कृति की महक मिलेगी साथी आदिवासी व्यंजनों को भी प्रमोट किया जाएगा.

कार्यक्रम के दौरान चार सेमिनार का होगा आयोजन..
टीआरआई निदेशक रणेन्द्र कुमार ने कहा कि यह कार्यक्रम आदिवासी जीवन की बौद्धिकता और उपलब्धियों के मेगा इवेंट का बड़ा हिस्सा होगा. उन्होंने बताया कि कार्यक्रम के दौरान चार सेमिनार आयोजित किये जायेंगे. दोनों दिन देश और दुनिया के नामचीन जानकार परिचर्चा में शामिल होंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *