झारखंड में पर्यटन स्थलों को विकसित करने को लेकर हेमंत सरकार गंभीर..

बीते रविवार मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन हार्वर्ड इंडिया कॉन्फ्रेंस को ऑनलाइन संबोधित कर रहे थे। इस कांफ्रेंस के अंतर्गत उन्होंने झारखंड में पर्यटन स्थल को विकसित करने से लेकर उन्हें आकर्षक बनाने की बातों पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि हमारा झारखंड खनिज संपदा से भरपूर है। लेकिन अब राज्य में पर्यटन स्थलों का विकास करना इस सरकार का लक्ष्य है। उन्होंने अन्य देशों व राज्यों की तुलना करते हुए कहा कि कई ऐसे देश और राज्य हैं, जहां खनिज संपदा पर्याप्त नहीं है। लेकिन उनकी स्थिति काफी अच्छी है। इसका एकमात्र कारण है वहां प्राकृतिक सौंदर्य का विकास करना और उन्हें पर्यटन स्थल का रूप देना।

इस हार्वर्ड  इंडिया कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि अब हमारी सरकार का लक्ष्य इस राज्य में अधिक से अधिक पर्यटन क्षेत्रों का विकास करना है। ताकि यहां पर्यटकों का आगमन अधिक से अधिक हो।  जिससे राज्य के राजस्व में भी वृद्धि हो सके। हमारा झारखंड खनिज संपदा से भरपूर तो है ही साथ ही प्राकृतिक सौंदर्य से भी भरा पूरा है। ऐसे में यह प्राकृतिक स्थलों का विकास न सिर्फ झारखंड राज्य की सौंदर्यता बढ़ाएगा। बल्कि यहां के आसपास रहने वाले लोगों के लिए रोजगार का भी सृजन करेगा। जिससे इन क्षेत्रों में  नक्सलियों की गोली की जगह पर्यटकों के ठहाके गूंजने लगेंगे।

आपको बता दें मुख्यमंत्री ने इस कॉन्फ्रेंस में झारखंड को विकसित राज्य की श्रेणी में लाने के साथ-साथ इस राज्य से जुड़ी कई समस्याओं और उसके समाधान पर भी चर्चा की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *