देवघर में इस बार भी शिवरात्रि पर नहीं निकलेगी महाशिवबारात..

झारखंड में भले ही कोविड के मामलों में गिरावट दर्ज की जा रही है बावज़ूद इसके सरकार कोरोना खतरों को देखते हुए किसी भी किस्म का जोख़िम उठाने के मूड में नज़र नहीं आ रही है। यही वजह है कि, विश्व प्रसिद्ध बाबाधाम यानी देवघर में शिवरात्रि के मौके पर निकलने वाली शिव बारात की झांकी के आयोजन को रद्द करने का फैसला लिया गया है। कोरोना के खतरों को देखते हुए इस बार भी देवघर में शिव बारात का आयोजन नहीं होगा। साथ ही शिवरात्रि के मौके पर निकलने वाली झांकी का आयोजन भी रद्द कर दिया गया है।

देवघर के समाहरणालय कक्ष में शिवरात्रि की तैयारी को लेकर जिलाधिकारी मंजूनाथ भजंत्री और बाबा मंदिर के तीर्थपुरोहितों के बीच आयोजित अहम बैठक में लिए गए निर्णय के मुताबिक, कोविड कारणों से शिवबारात के आयोजित नहीं करने पर सहमति बनी। गौरतलब है कि झारखंड के देवघर में स्थित बाबा बाबा बैद्यनाथ धाम 12 ज्योतिर्लिंग में एक है। यहां झारखण्ड, बिहार, बंगाल के अलावे देश और विदेश के कोने-कोने से लोग पूजा अर्चना के लिए यहां पहुँचते हैं। श्रावणी में और खासकर महाशिवरात्रि में लाखों श्रद्धालुओ की भीड़ यहां देखी जा सकती है। लेकिन पिछले दो सालों से कोविड 19 के संक्रमण के कारण यहां होने वाली महोत्सव कार्यक्रम को स्थगित होने से असर पड़ा है।

वीआइपी पूजा पर भी रहेगी पाबंदी..
वीआइपी पूजा पर रहेगी पाबंदी, स्पर्श पूजा की होगी इजाजत बैठक के दौरान तीर्थपुरोहितों की तरफ से श्रद्धालुओं की सुविधा को देखते हुए शिवरात्रि के दिन देवघर आनेवाले आम भक्तों के लिए स्पर्श पूजा की इजाज़त दी गई है साथ ही, सीघ्र दर्शनम की सुविधा को भी बहाल रखा गया है। इसके अलावा, बाबा मन्दिर प्रांगण में पेयजल की व्यवस्था दुरुस्त करने की मांग की गई ताकि, मंदिर में दर्शन करने आने वाले श्रद्धालुओं को किसी भी तरह की असुविधा का अनुभव न हो सके। 1 मार्च को है महाशिवरात्रि, तैयारी में जुटा जिला प्रशासन इस साल 1 मार्च को महाशिवरात्रि मनाया जाएगा जिसे देखते हुए जिला प्रसाशन ने अभी से ही तैयारियां शुरू कर दी हैं।

किए गए हैं व्‍यापक इंतजाम..
गौरतलब है कि, महाशिवरात्रि के अवसर पर देवघर में लाखों की संख्या में श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ती है। लिहाजा, देवघर के जिलाधिकारी मंजूनाथ भजंत्री ने तमाम भक्तों को सुलभ दर्शन के लिए चिन्हित स्थानों पर बैरिकेडिंग के साथ ही साफ-सफाई, पानी, चिकित्सा के साथ ही सभी आवश्यक इंताज़म करने के निर्देश जारी किए हैं। सुबह 6 बजे और शाम 4 बजे दो स्लॉट में मिलेंगे सीघ्रदर्शनम कूपन देवघर में शिवरात्रि के दिन उमड़ने वाली भक्तों की भीड़ को देखते हुए देवघर DC मंजुनाथ भजंत्री ने शीघ्रदर्शनम कूपन के इंताज़म को दो स्लॉट यानी सुबह 6 बजे और शाम 4 बजे दो-दो घंटों के लिए उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *