जल्द ही जाम मुक्त होंगी रांची की प्रमुख सड़कें, फोरलेन में होंगी तब्दील..

आये दिन राजधानी रांची की सडकों पर लगने वाले जाम की समस्या दिन प्रति दिन संजीदा होती जा रही है। शायद ही ऐसा कोई दिन होगा जब रांची की मुख्य सड़कों पर जाम न लगा हो। राज्य के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन भी इस समस्या से भलीभांति परिचित हैं और इसके निवारण को लेकर काफी गंभीर भी हैं। गत शनिवार को मुख्यमंत्री ने अपने तय कार्यक्रम से हटकर जिस प्रकार राजधानी के मुख्य सड़कों का निरिक्षण किया, वह उनकी गंभीरता दर्शाता है।

राजधानी में इससे पहले आए दिन राजनीतिक पार्टियों व कतिपय संगठनों के द्वारा किये जाने वाले धरना स्थल के लिए स्थान निश्चित किया गया। अब शीघ्र ही राजधानी के मुख्य सड़कों को डिवाइडर समेत फोरलेन बनाया जाएगा। उम्मीद जताई जा रही है कि इसके बाद राजधानी के लोगों को जाम की समस्या से निजात मिल पाएगा।

राज्य में चल रहे बजट सत्र के दौरान पूछे गए सवाल के जवाब में सत्ता पक्ष ने माना कि पिस्का मोड़, रातू रोड से ले कर लालपुर चौक, डांगरा टोली चौक होते हुए काँटा टोली तक हमेशा जाम की समस्या रहती है। इसलिए सरकार द्वारा इन प्रमुख सड़कों को डिवाइडर सहित फोरलेन बनाने का निर्णय लिया गया है। इसके लिए नगर विकास विभाग के एजेंसी जुडको ने विस्तृत परियोजना तैयार करना शुरू कर दिया है। शीघ्र ही राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण की ओर से रातू रोड पर एलिवेटेड रोड का निर्माण किया जाएगा, जिसके लिए एक प्रस्ताव सरकार के पास लंबित है।

आपको बता दें कि उपरोक्त सड़कों पर जाम रहने का एक कारण आये दिन इन सड़कों पर हो रहे धरना प्रदर्शन भी है। सरकार तक अपनी बातें को पहुंचाने और अपनी मांग पूरी करवाने के लिए आये दिन विधानसभा के समक्ष धरना प्रदर्शन होता था। जिस वजह से इन सड़कों पर जाम की समस्या रहती थी। लेकिन अब पुंदाग में धरना प्रदर्शन के लिए जगह उपलब्ध कराई गयी है। इससे राजधानी में ट्रैफिक की समस्या को कुछ हद तक रोका जा सकता है।

ज्ञात हो कि गत शनिवार मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने स्वयं अपनी गाड़ी चलाते हुए इन सड़कों का निरिक्षण किया। साथ ही उन्होंने अधिकारियों से सड़क के किनारे सब्ज़ी विक्रेताओं के लिए वेंडिंग जोन बनाने, रातू रोड समेत अन्य सड़कों के किनारे ऑटो, बस व अन्य वाहनों को लगाने की सुविधा दुरुस्त करने के लिए कहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *