पलामू के नवाडीह क्षेत्र के कुछ खेतों से बार-बार मिल रहे मुगलकाल के बेशकीमती सिक्के..

पलामू : पलामू जिले के एक खेत में 200 चांदी के सिक्के मिलने से अफरातफरी मच गई. पांकी थाना क्षेत्र के नवाडीहा गांव के भलही पहाड़ी की तलहटी में स्थित इस खेत में यह सिक्के घड़े में बंद मिले. गौर से देखने पर यह 11वीं शताब्दी के मालूम पड़ रहे थे. कुछ सिक्कों पर 1032 व 1092 अंकित है जिसमें अरबी व फारसी के कुछ शब्द लिखे हुए हैं. जो मध्यकालीन भारत में प्रचलित सिक्के सा प्रतित हो रहा है.

आपको बता दें कि नवडीहा गांव निवासी बचन बैठा ने खेतों के समतलीकरण के कार्य हेतु जेसीबी मशीन को कार्य पर लगाया था. इसी दौरान मिट्टी से लिपटे होने के कारण लोगों की नजर उस पर नहीं गई. जबकि, बारिश से धूल जाने के कारण इस चांदी के सिक्के से भरे घड़े पर गांव के जहीर के बेटे सलीम मियां की नजर पड़ गयी. बस फिर क्या था वह उसे घर ले गया और गिनने लगा. इसे देख कर सलीम के भाईयों के बीच तनाव हो गया. जिसके बाद मामला थाना तक पहुंच गया और इसका राज खुल गया.

लोकल थाने तक विवाद पहुंचा तो सिक्के मिलने का राज सलीम मियां ने उगल दिया और दबाव में आकर 102 सिक्के पांकी थाना के हवाले कर दिया. बाकि बच्चे सिक्कों को लेकर पुलिस लगातार छानबीन कर रही है. आपको बता दें कि इससे पूर्व में भी नवडीहा गांव के खेतों में चांदी के सिक्के मिलने की बात सामने आ आयी है.

पलामू जिला के हैदरनगर प्रखंड स्थित सोननदी के के पास भी बौद्धकाल के सिक्के प्राप्त हुए थे. पुरातत्व विभाग को खोदाई में प्राचीन काल के बर्तन भी मिले हैं.

इधर, नवडीहा गांव में 200 चांदी सिक्के मिलने के मामले ने तूल पकड़ लिया है. इसे मुगलकाल का बताया जा रहा है. पुलिस बाकि के सिक्कों की तलाश में जुटी हुई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *