गुमला में AK-56 के साथ प्रतिबंधित उग्रवादी संगठन SJMM का एरिया कमांडर मुनीफ हुआ गिरफ्तार..

गुमला पुलिस ने रविवार की अहले सुबह एंटी क्राइम चेकिंग अभियान में एसजेजेएम झांगुर गुट के सुप्रीमो रामदेव उरांव के एक अपराधी मुनीफ अंसारी को एके 56 रायफल के साथ गिरफ्तार किया है। हालांकि पुलिस को देखते ही रामदेव सहित तीन अपराधी रात के अंधेरा का लाभ उठाकर भागने में सफल रहे। चारों किसी बड़ी घटना को अंजाम देने के लिए कार से घाघरा जा रहे थे और इसी बीच पुलिस ने यह कार्रवाई की। यह जानकारी रविवार को एसपी ह्रदीप पी जनार्दनन ने दी। भागने वाले तीन साथियों का नाम रामदेव उरांव, मनोज सिंह और अरविंद उरांव हैं। ये लोग संगठन के सक्रिय सदस्य हैं।

एसपी ने बताया कि उन्हें गुप्त सूचना मिली थी कि झांगुर गुट के सुप्रीमो रामदेव उरांव अपने तीन अन्य साथियों के साथ किसी बड़ी घटना को अंजाम देने के लिए घाघरा आने वाला है। इसके बाद पुलिस टीम द्वारा घाघरा-लोहरदगा मेन रोड पर पेट्रोल पंप के आगे महदनिया के पास एंटी क्राइम चेकिंग शुरू की गई।रविवार अहले सुबह 3 बजे टीम को हुंडई ईओन गाड़ी आती हुई दिखी। पुलिस ने उसे रोकने का प्रयास किया तो उग्रवादियों ने गाड़ी को घुमाकर भागने का प्रयास किया। हालांकि पुलिस ने गाड़ी को घेर लिया। इसके बाद कार सवार चारों उग्रवादी गाड़ी को रोक पैदल ही भागने लगे। इनमें से पुलिस ने एक को पकड़ लिया।

एसपी ने बताया कि मुनीफ की निशानदेही पर हुंडई कार से एके-56 रायफल फोलडिंग बट मैगजीन लगा हुआ, एक चितकबरा पाउच जिसमें गोली, मैगजीन तथा अन्य सामान बरामद हुआ। मुनीफ ने यह भी जानकारी दी कि बरामद हथियार रामदेव का है। जो इसको छोड़कर पुलिस के डर से भाग निकलने में सफल रहा। साथ ही भागे हुए अन्य लोगों में से अरविंद उरांव के पास एक एके-47 है, जो वह साथ में लेकर भाग निकला। वहीं, बरामद कार का उपयोग रामदेव व अन्य के द्वारा घटनाओं को अंजाम देने व लेवी वसूलने में किया जाता है। मुनीफ की निशानदेही पर रामदेव की बिना रजिस्ट्रेशन नंबर नीले रंग की बाइक जब्त किया गया है।

पुलिस ने ये सामान किए बरामद..
एसपी ने बताया कि पुलिस ने सिल्वर रंग की हुंडई ईओन मैगा कार, कार से एके-56 प्रतिबंधित राइफल जिसके मैगजीन में 7.62 एमएम का 28 गोली भरा हुआ था, एक केमोफ्लाईट जैकेट पाउच, एक मैगजीन जिसमें 7.62 एमएम का 28 गोली, पाउच पॉकेट से 7.62 एमएम की 74 गोली, गोली के पाउच से 12 बोर की चार जिंदा गोली व 12 बोर का तीन खोखा, राउटर एक, सैमसंग डिओस बटन वाला फोन एक, एक चार्जर, एक घड़ी, बाइक की चाबी और एक बाइक समेत अन्य सामान बरामद किया है।

आत्मसमर्पण की अपील..
एसपी ने अपराधियों से फिर से आत्मसमर्पण करने और सरकार की आत्मसमर्पण नीति का लाभ उठाने की अपील है। कहा कि अपराध और अपराधी से पुलिस समझौता नहीं करेगी। बुद्धेश्वर के साथियों की किस्मत अच्छी थी कि वे जान बचाकर भागने में सफल हो गए। पुलिस ने उन्हें चारों ओर से घेर रखा था। उन्होंने रात में भागे रामदेव व उनके अन्य साथियों से भी आत्मसमर्पण करने की अपील की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *