जेपीएससी ने शुरू की विश्वविद्यालयों के शिक्षकों की प्रोन्नति प्रक्रिया..

राज्य के विश्वविद्यालयों के शिक्षकों की सालों से लंबित प्रोन्नति, डेट शिफ्टिंग, प्रमोशन सह डेट शिफ्टिंग, डबल डेट शिफ्टिंग व नियुक्ति पर सहमति देने का कार्य जेपीएससी ने शुरू कर दिया है | जानकारी के अनुसार आयोग ने एक ही दिन में 95 प्रस्तावों में से 93 मामलों को क्लियर कर दिया है | पिछले दिनों राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने शिक्षकों के प्रोन्नति पर विलम्ब को लेकर काफी नाराजगी दिखाई थी | राज्यपाल के निर्देश के बाद जेपीएससी अध्यक्ष अमिताभ चौधरी स्वयं इस मामले की मॉनिटरिंग कर रहे हैं |

आपको बता दें कि आयोग में 93 शिक्षकों का प्रस्ताव तैयार था, लेकिन किन्हीं कारणों की वजह से इन्हें रोका गया था | आयोग के पास कुल 93 प्रस्ताव गए थे, जिसमें से आयोग ने 42 शिक्षकों की नियुक्ति पर सहमति दे दी है | जानकारी के अनुसार 12 शिक्षकों को असिस्टेंट प्रोफेसर से सीनियर स्केल, एसोसिएट प्रोफेसर व प्रोफेसर पद की प्रोन्नति दी गयी है | जबकि 14 शिक्षकों के प्रोन्नति सह डेट शिफ्टिंग का मामला क्लियर किया गया है | वहीं , 25 शिक्षकों की डेट शिफ्टिंग किया गया है और दो शिक्षकों के डबल डेट शिफ्टिंग का लंबित मामला भी क्लियर कर दिया गया है | लेकिन, एक शिक्षक की डेट शिफ्टिंग व एक शिक्षक को प्रोन्नति देने का मामला कागजात की कमी की वजह से रोक दिया गया है |

आपको बता दें कि कुल 93 शिक्षकों में जेपीएससी के सदस्य डॉ एके चट्टोराज और डॉ टीएन साहू का नाम नहीं है | जेपीएससी के ये दोनों सदस्य अपनी प्रोन्नति इंटरव्यू में शामिल हुए हैं | उन्हें एसोसिएट प्रोफेसर से प्रोफेसर के पद की प्रोन्नति मिलनी है | लेकिन, इनको प्रोन्नति देने पर अब अंतिम निर्णय राज्यपाल सह कुलाधिपति द्वारा लिया जायेगा | डॉ चट्टोराज व डॉ साहू के मामले में आयोग ने राज्यपाल से दिशा -निर्देश मांगा है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *