JPSC अध्यक्ष पद अभी तक खाली, अभ्यर्थी परेशान, इन नामों को लेकर हो रही चर्चा..

रांची: झारखंड लोक सेवा आयोग (जेपीएससी) के अध्यक्ष पद पर अभी तक नियुक्ति नहीं की गई है. इस कारण जहां कई प्रतियोगिता परीक्षा आयोजित नहीं हो पा रही है वहीं कई परीक्षा के परिणाम भी अब तक जारी नहीं किया गया है. जिससे अभ्यर्थी काफी परेशान हैं. सबसे अधिक परेशान सहायक अभियंता नियुक्ति परीक्षा के अभ्यर्थी हैं. लंबे समय तक कोर्ट में लड़ाई लड़ने के बाद परिणाम जारी होने का समय आया तो उनका परिणाम सिर्फ इसलिए जारी नहीं हो पा रहा है, क्योंकि आयोग में अध्यक्ष का पद रिक्त है. अभ्यर्थी आयोग से लेकर कार्मिक विभाग का चक्कर लगा रहे हैं.

डॉ. अजिता भट्टाचार्य बन सकती है अध्यक्ष

सीएम हेमंत सोरेन ने पार्टी के नेता सुप्रियो भट्टाचार्य की पत्नी डॉ. अजिता भट्टाचार्य को अध्यक्ष का प्रभार सौंपने को लेकर चर्चा है. वे कार्यकारी अध्यक्ष के रूप में कार्य करेंगी. फिलहाल वे आयोग की सदस्य हैं. कार्यकारी अध्यक्ष पद पर उनकी नियुक्ति का प्रस्ताव कार्मिक विभाग अब राज्यपाल को भेजेगा और उनकी मंजूरी मिलने पर अधिसूचना जारी होगी. इनके अलावा अपर मुख्य सचिव केके खंडेलवाल, शिशिर कुमार सिन्हा, दिलीप टोप्पो, चंद्रमोहन प्रसाद कश्यप, डॉ माधव शरण सिंह आदि के नाम पर भी चर्चा हैं. इधर अभ्यर्थीओं ने सीएम से गुहार लगाई है कि जल्द से जल्द किसी को पद पर नियुक्ति किया जाए.

05 जुलाई को जेपीएससी के अध्यक्ष अमिताभ चौधरी का कार्यकाल समाप्त हुआ

बता दें, 5 जुलाई को जेपीएससी के अध्यक्ष अमिताभ चौधरी का कार्यकाल समाप्त हो गया था. इसके बाद से अध्यक्ष का पद खाली है. इस अहम आयोग का अध्यक्ष नहीं होने से प्रतियोगी परीक्षाओं के आयोजन, इंटरव्यू और परीक्षा संबंधी निर्णय नहीं हो पा रहे है. हालांकि, जेपीएससी में सदस्य के तीन पदों पर डॉ अजिता भट्टाचार्य, प्रो. अनिमा हंसदा और डॉ जमाल अहमद कार्यरत हैं, लेकिन सारे अहम निर्णय अध्यक्ष ही लेते हैं, इसलिए आयोग का कामकाज प्रभावित हो रहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *