स्वास्थ्य मंत्री ने 43 चिकित्सा पदाधिकारी और 280 चिकित्सकों को दिया नियुक्ति पत्र..

झारखंड में 3 साल बाद JPSC डॉक्टर और चिकित्सा पदाधिकारी की नियुक्ति हुई। झारखंड की हेमंत सरकार के एक साल के कार्यकाल के दूसरे दिन आज (30 दिसंबर, 2020) को राज्य के 367 नये मेडिकल ऑफिसरों को नियुक्ती पत्र सौंपा गया। इन चिकित्सकों को नियुक्ति पत्र झारखंड के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने एक समारोह में प्रदान किया। नये चिकित्सकों में जेपीएससी की ओर से 280 चिकित्सा पदाधिकारी नियुक्त किये गये हैं, जबकि बाकी बचे 87 चिकित्सकों का चयन राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (National Health Mission- NHM) द्वारा हुआ है। इन्हें कॉन्ट्रैक्ट पर रखा गया है।

इस दौरान स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने कहा कि गरीब ग्रामीण राज्य सरकार की तरफ आशान्वित हैं। उनकी आशा और आकांक्षा को पूरा करेंगे। हम आपके चेहरे पर भी मुस्कान लाना चाहते हैं। मरीजों के चेहरे पर मुस्कान लाना चाहते हैं। ताकि सरकार का चेहरा देश और दुनिया में दिखेगाा। उन्होने कहा कि स्वस्थ और समृद्ध झारखंड का सपना सीएम का है। ग्रामीण क्षेत्रों में डॉक्टरों और दूसरे मेडिकल स्टाफ की कमियों को दूर करने पर सरकार की नजर है।

वहीं JPSC के माध्यम से चुने गये चिकित्सकों का कहना है कि अब उनकी जिम्मेदारी और जवाबदेही और भी ज्यादा बढ़ गई है। ग्रामीण इलाकों में स्वास्थ्य सेवाओं को दुरुस्त करने में वे मदद देंगे। कॉन्ट्रैक्ट पर रखे गये चिकित्सकों के मुताबिक यह एक्सपीरियंस उनके कैरियर को सही मुकाम देने में कारगर साबित होगा।

इस अवसर पर वैश्विक महामारी कोविड-19 के नियंत्रण तथा रोकथाम में योगदान के लिए माइक्रोबायोलाॅजिस्ट एचओडी डाॅ मनोज कुमार, IDSP के स्टेट इपिडेमोलाॅजिस्ट डाॅ प्रवीण कर्ण तथा सीएम हेल्थ एडवाइजर तेजकरण चारण को प्रशस्ति प्रमाण पत्र भी प्रदान किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *