भुवनेश्वर में रांची स्मार्ट सिटी काॅरपोरेशन की ओर से इंवेस्टर्स मीट 2021 का आयोजन..

रांची के नगर आयुक्त मुकेश कुमार ने कहा है कि देश में झारखंड भविष्य और अपार संभावनाओं का राज्य है इसलिए विभिन्न क्षेत्रों में निवेश के इच्छुक निवेशकों को रांची स्मार्ट सिटी में निवेश जरूर करना चाहिए। रांची स्मार्ट सिटी काॅरपोरेशन की ओर से ओड़िशा की राजधानी भुनेश्वर में आयोजित इंवेस्टर्स मीट 2021 में बोलते हुए नगर आयुक्त ने भुनेश्वर सहित ओड़िशा के अन्य शहरों के निवेशकों से रांची स्मार्ट सिटी में निवेश का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि देश के तमाम प्रतिष्ठित उद्योगपतियों ,केंद्र सरकार के पीएसयू,और देश के बड़े संस्थानों का संबंध झारखंड से जरूर रहा है, क्योंकि यहां पर खनिज संपदा के साथ-साथ यहां का मौसम तथा राज्य सरकार की ओर से बिजनेस व्यापार के लिए बनी नीतियां बेहद आकर्षित है। उन्होंने कहा कि इज ऑफ डूइंग बिजनेस में पिछले 5 वर्षों में लगातार झारखंड प्रथम पांच राज्यों की पंक्ति में खड़ा है।

कार्यक्रम में नगर आयुक्त रांची द्वारा जिन महत्वपूर्ण बिंदुओं पर जोर दिया गया वो इस प्रकार है:

  • रांची स्मार्ट सिटी का इलाका राजधानी के पावर सेंटर में अवस्थित है
  • विभिन्न कारणों से निवेश के लिए रांची देश के बेहतर स्थानों में शामिल है
  • व्यवसाय, उद्योग और मौसम के लिहाज से बेहतरीन शहरों में शामिल है रांची
  • निवेश से जुड़ी हमारी नीतियां बेहद आकर्षित है
  • इज ऑफ डूइंग बिजनेस में भी झारखंड पिछले कई वर्षों से अग्रणी राज्यों के सूची में शामिल है
  • झारखंड का सिंगल विंडो सिस्टम पहले से काम कर रहा है
  • शहर के विकास के साथ आप भी अपने व्यवसाय को आगे ले जाने की संभावना तलाश सकते हैं

वहीं कार्यक्रम को संबोधित करते हुए रांची स्मार्ट सिटी कारपोरेशन के सीईओ अमित कुमार ने भुनेश्वर के निवेशकों से रांची स्मार्ट सिटी में निवेश करने का आग्रह किया और कहा कि भुनेश्वर में उच्च शिक्षा के लिए बड़ी संख्या में शैक्षणिक संस्थान है और जब हम रांची को एजुकेशन हब के रूप में विकसित कर रहे हैं तो आपका सहयोग जरूरी है, इस शहर को एजुकेशन हब बनाने में आपके अनुभव का महत्वपूर्ण योगदान मिलना चाहिए। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार और माननीय मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन निवेशकों को लेकर बेहद संवेदनशील है और निवेशकों को कोई असुविधा नहीं हो इसके लिए आकर्षक नीतियां बनाई गई हैं।

अमित कुमार ने कहा कि रांची स्मार्ट सिटी में ई ऑक्शन प्रक्रिया पूरी तरह से पारदर्शी और कॉन्टैक्टलेस है। देश के किसी भी कोने में बैठा निवेशक अपने पसंद के प्लॉट के लिए ऑक्शन में भाग ले सकता है। इस मौके पर अमित कुमार ने कहा कि राज्य सरकार का उद्देश्य है कि झारखंड की राजधानी को एजुकेशन हब के रूप में विकसित किया जाए। ईज आफ लिविंग के लिहाज से शहर के इंफ्रास्ट्रक्चर को विकसित किया जा रहा है जो कि अंतिम दौर में हैं। स्मार्ट सिटी क्षेत्र में पारदर्शिता का ख्याल रखते हुए आवासीय , शैक्षणिक , स्वास्थ्य ,व्यावसायिक, मिक्स यूज इत्यादि क्षेत्र के लिए चिन्हित प्लॉट्स के ई ऑक्शन को कॉन्टैक्टलेस बनाया गया है। इस पूरे क्षेत्र में प्रदूषणयुक्त इंडस्ट्री लगाने का कोई प्रावधान नहीं है।

कार्यक्रम में रांची स्मार्ट सिटी कॉरपोरेशन के महाप्रबंधक राकेश कुमार नंदकुलयार ने पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन के जरिए स्मार्ट सिटी के रूप रेखा विभिन्न क्षेत्र में कार्य कर रहे संभावित निवेशकों के समक्ष रखा। रांची स्मार्ट सिटी में क्या कुछ खास है उन हर पहलुओं से निवेशकों को अवगत कराया। स्मार्ट सिटी में निवेश के इच्छुक निवेशकों ने भी कई सवाल रखें जिसका जवाब नगर आयुक्त स्मार्ट सिटी, सीईओ और जीएम की ओर से दिया गया। कार्यक्रम में स्मार्ट सिटी कॉरपोरेशन के पीआरओ अमित कुमार एवं अन्य पदाधिकारी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *