IAS पूजा सिंघल केस: झारखंड-बिहार में फिर ईडी की छापामारी, कार्रवाई जारी..

झारखंड की पावरफुल आईएएस पूजा सिंघल के खिलाफ ईडी की कार्रवाई मामले में अहम खबर है। आज मंगलवार को फिर से ईडी की छापेमारी चल रही है। ईडी ने रांची के दो बिल्डरों अनिल झा, विशाल चौधरी व निशित केसरी के घर पर छापेमारी की है। दोनों झारखंड के नौकरशाहों से अच्छे संबंध रखते हैं और कालाधन खपाने का काम करते हैं। मनी लाउंड्रिंग और मनरेगा घोटाले में गिरफ्तार आइएएस पूजा सिंघल से पूछताछ के बाद ईडी ने इन दोनों बिल्डरों के सात ठिकानों पर छापेमारी की है।

रांची के अलावा बिहार में भी कुछ जगहों पर छापेमारी चल रही है। बताया जाता है कि विशाल चौधरी के घर से करोड़ों रुपये नकदी बरामद हुए हैं। ईडी के अधिकारी नोट गिनने वाली मशीन लेकर उसके घर पहुंचे हैं। हालांकि अभी तक ईडी के अधिकारियों ने इस बात की पुष्टि नहीं की है कि कितने रुपये बरामद हुए हैं। देर शाम तक इसका खुलासा होने की संभावना है।

बताया जा रहा कि अनिल झा अभिजीता कंस्ट्रक्शन में पार्टनर है। वहीं विशाल चौधरी विनायका ग्रुप का संचालक है। रांची के अरगोरा चौक के पास अशोक नगर रोड नंबर 5 के पास उसका कार्यालय है, जहां छापेमारी की गई है। ईडी ने कार्यालय के सभी कर्मचारियों का मोबाइल जब्त कर लिया है। कार्यालय के सभी दस्तावेज खंगाले जा रहे हैं। इसी क्रम में करोड़ों रुपये बरामद होने की सूचना है। इन नोटों की गिनती की जा रही है।

गृह सचिव के जीजा के घर भी छापेमारी..
सूचना है कि ईडी ने निशित केसरी कंस्ट्रक्शन प्राइवेट लिमिटेड के आवास और कार्यालय में भी छापेमारी की है, जो अरगोड़ा से आगे पुनदाग रोड में है। बताया जा रहा है कि यह कंस्ट्रक्शन कंपनी राज्य के गृह सचिव राजीव अरुण एक्का के रिश्तेदार का है। अरुण एक्का के जीजा है निशित केसरी। निशित केसरी की पत्नी रांची रिम्स में डॉक्टर है।

इस तरह ईडी के हत्थे चढ़ीं पूजा सिंघल..
मालूम हो कि झारखंड के खूंटी जिले में मनरेगा घोटाला हुआ था। तब पूजा सिंघल वहां की डीसी थीं। ईडी ने पूजा सिंघल और उनसे जुड़े लोगों के ठिकाने पर 06 मई 2022 को छापेमारी की थी। पूजा सिंघल के सीए सुमन कुमार सिंह 07 मई 2022 को गिरफ्तार किया गया। उसके घर से करीब बीस करोड़ रुपये मिले थे। 08 मई 2022 को जब ईडी ने पूजा सिंघल के पति अभिषेक झा से पूछताछ की तो कई सुराग मिले। इसके बाद 10 मई 2022 को ईडी ने पूजा सिंघल से पूछताछ की। 11 मई 2022 को पूजा सिंघल गिरफ्तार कर ली गईं। 12 मई 2022 को झारखंड सरकार ने पूजा सिंघल को निलंबित कर दिया था। पूजा सिंघल अभी ईडी के कब्जे में हैं। उनसे पूछताछ चल रही है। वहीं सीए सुतन कुमार सिंह इस समय जेल में बंद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *