अर्घ्य देने के दौरान फायरिंग, छठ घाट पर गोली मारकर कोयला कारोबारी की हत्या..

चतरा जिले के सिमरिया क्षेत्र के तपसा गांव निवासी कोयला कारोबारी मुकेश गिरि को छठ घाट पर भाकपा माओवादियों ने गोली मारी कर हत्‍या कर दी है। घटना आज शनिवार की सुबह सात बजे के करीब की है। राज्य सरकार और पुलिस को चुनोती देते हुए, भारी भीड़ में छठ घाट पर नक्सलियों ने कोयला कारोबारी को गोली मारकर हत्या कर दी। मुकेश गिरी को दो गोली लगी। गोली लगने के बाद उन्हें सिमरिया रेफरल अस्पताल में प्राथमिक उपचार के बाद रिम्स रेफर कर दिया गया। राँची आने के क्रम में उनकी मौत हो गई है।

घटनास्थल पर माओवादियों ने दो पर्चा छोड़ा है। माओवादियों ने गिरी पर पुलिस मुखबिरी का आरोप लगाया है। घटना की जानकारी मिलते ही सिमरिया सीडीपीओ बचनदेव कुजूर एवं पत्थलगडा थाना प्रभारी निरंजन कुमार मिश्रा दलबल के साथ तपसा छठ घाट पर पहुंचे और मामले की जानकारी ली। पुलिस ने घटनास्थल से तीन खोखा और दो हस्तलिखित पर्चा बरामद किया है।

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि भगवान भास्कर के उदीयमान स्वरूप को अर्घ्य देने के समय सुबह घाट पर भारी संख्या में श्रद्धालु उपस्थित थे। इसी क्रम में एक के बाद एक तीन गोली की आवाज आई। जब तक कुछ समझ पाते, तब तक तीन मोटरसाइकिल पर सवार नक्सली भाकपा माओवादी जिंदाबाद जिंदाबाद का नारा लगाते भाग निकले। छठ घाट पर हुई हत्या से राज्य सरकार की कानून व्यवस्था की पोल खुल गई है। वहीं इस हत्या से लोगों में भारी आक्रोश है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *