देवघर एयरपोर्ट का रन-वे बेहतरीन – DGCA

देवघर: श्रावणी मेला से पहले 12 जुलाई को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हाथों देवघर एयरपोर्ट के उद्घाटन की संभावना को देखते हुए डीजीसीए ने देवघर एयरपोर्ट को सभी प्रकार की टेक्निकल लाइसेंस सौंप दी है. डीजीसीए ने अपने लाइसेंस में देवघर एयरपोर्ट के रनवे को बेहतर बताया है और एयरपोर्ट के एप्रोन में एक साथ तीन एयर बस- 320 फ्लाइट की पार्किंग क्षमता बतायी है. देवघर एयरपोर्ट में इंडिगो की पैसेंजर फ्लाइट का ट्रायल सात जून और 22 जून को किये जाने के बाद इसका लाइसेंस डीजीसीए, दिल्ली द्वारा जारी कर दिया गया है. डीजीसीए की टीम छह जून और 21 जून को देवघर भी आयी थी और देवघर एयरपोर्ट के रनवे, एटीसी समेत सभी टेक्निकल सेगमेंट का जायजा लिया था. उसके बाद दिल्ली में मिनिस्ट्री ऑफ सिविल एविएशन और एयरपोर्ट बोर्ड ऑफ सिक्योरिटी के अधिकारियों के साथ बैठक के बाद देवघर एयरपोर्ट को पैसेंजर फ्लाइट एयरबस -320 और बोइंग जहाज की सभी सीरीज के विमानों की लैंडिंग का लाइसेंस उपलब्ध करा दिया है.

अगले तीन महीने में देवघर एयरपोर्ट में अब रात्रि में फ्लाइट लैंडिंग की सुविधा को बहाल करने के लिए एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया द्वारा राज्य सरकार को एयरपोर्ट के आसपास पड़ने वाले ऊंचे बिजली के खंभे, ऊंचे मकान और पेड़-पौधे को कम करने के लिए आग्रह किया जा रहा है, ताकि रात्रि में विमानों की लैंडिंग के लिए सभी तकनीकी प्रक्रिया पूरी करते हुए देवघर एयरपोर्ट में 24 घंटे विमान की लैंडिंग की सुविधा की जाये.

इंडिगो ने की मैनेजर व कर्मियों की नियुक्ति..
इंडिगो ने पैसेंजर फ्लाइट के दो सफल ट्रायल होने के बाद देवघर एयरपोर्ट पर मैनेजर, काउंटर स्टाफ, बस ड्राइवर समेत अन्य मैकेनिकल और टेक्निकल स्टाफ की नियुक्ति कर दी है. एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया की ओर से इंडिगो को देवघर एयरपोर्ट में ऑफिस और काउंटर भी उपलब्ध करा दिया गया है. इंडिगो के मैनेजर का चेंबर और काउंटर तैयार हो चुका है. उद्घाटन के बाद देवघर से कोलकाता की फ्लाइट शुरू करने के लिए इंडिगो द्वारा 28 जून से टिकटों की ऑनलाइन बुकिंग शुरू कर दी जायेगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *