झारखण्ड के पांच प्रमुख जनजातियों पर होगा 12 महीनों तक अध्ययन ..

झारखण्ड के पांच प्रमुख जनजाति संताल, उरांव, मुंडा-हो, खड़िया और चेरो के प्रथागत अधिकारों व प्रथाओं का तुलनात्मक अध्ययन किया जाएगा। इसमें ऐसे जनजातियों को चुना गया है जिनके सांस्कृतिक … Read More

बीएयू विदेशी फल अवोकाडो पर करेगी शोध..

बिरसा कृषि विश्वविद्यालय में विदेश से आने वाला फल अवोकाडो पर शोध किया जाएगा। इसके अलावा, किसानो के आमदनी में वृद्धि हो, इसके लिए राज्य में व्यापक रूप से प्रचार-प्रसार … Read More

देवघर के पेड़ा को मिलेगी विशेष पहचान, जीआई टैग दिलाने की कोशिश में जिला प्रशासन..

भोलेबाबा की नगरी देवघर की देश-विदेश में महत्वता तो पहले से ही थी, वहीं अब यहां मिलने वाला पेड़ा को भी वैश्विक पहचान देने की पहल की जा रही है| … Read More