बेरमो विधानसभा उपचुनाव के लिए एनडीए से बाटुल और महागठबंधन से जयमंगल ने किया नामांकन..

बेरमो विधानसभा उपचुनाव में भाजपा और कांग्रेस द्वारा अपने-अपने प्रत्याशियों की घोषणा के बाद बुधवार को दोनों ही पार्टी के उम्मीदवारों ने नामांकन किया|तेनुघाट स्थित बेरमो अनुमंडल कार्यालय में एनडीए समर्थित भाजपा प्रत्याशी योगेश्वर महतो ‘बाटुल’ और महागठबंधन समर्थित कांग्रेस के कुमार जयमंगल सिंह ने निर्वाची पदाधिकारी को अपना नामांकन सौंपा।

बेरमो विधानसभा सीट पर हो रहे उपचुनाव में भाजपा और कांग्रेस में सीधी टक्कर है। बता दें कि 2019 में यहां विधायक चुने गए कांग्रेस के राजेंद्र सिंह का इस वर्ष मई में निधन हो गया|जिसके बाद सीट रिक्त हो जाने के कारण यहां उपचुनाव हो रहा है। कांग्रेस ने स्वर्गीय राजेंद्र सिंह के बेटे अनूप सिंह को मैदान में उतारा है जबकि भाजपा ने 2019 में पराजित योगेश्वर महतो बाटुल पर एक बार फिर भरोसा जताया है।

नामांकन दाखिल करने के बाद भाजपा प्रत्याशी योगेश्वर महतो बाटुल ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि बेरमो की जनता का विश्वास उन्हें पहले भी मिला है और इस उपचुनाव में भी जनता का विश्वास जरूर मिलेगा|इस दौरान वो हेमंत सरकार पर जमकर बरसे| उन्होंने कहा कि मौजूदा राज्य सरकार ने नौ महीने के कार्यकाल में सिर्फ जनता को ठगने का काम किया है| पारा शिक्षकों को झूठे सपने दिखाये गये, साथ ही युवाओं को रोजगार देने की बात कहकर ठगा है|वर्तमान सरकार ने एनडीए के कार्यकाल में किये गये कार्यों पर रोक लगा दी लेकिन राज्य सरकार ने उसमें एक ईंट भी कही नहीं जुड़वाया|

बाटुल ने कहा कि वर्तमान सरकार में भ्रष्टाचार, उग्रवाद व कोयला तस्करी में लूट मची है| हमारी सरकार में उग्रवाद पूरी तरह खत्म होने की कगार पर था|ये चुनाव जीतकर वो समृद्ध बेरमो बनाने का काम करेंगे| बंद पड़ी तीन कोयला खदानों को दोबारा चालू करवायेंगे| अधूरे सपने को पूरा करते हुए क्षेत्र में कई नयी योजनाएं लाएंगे|

ज्ञात हो कि तीन नवंबर को बेरमो और दुमका उपचुनाव को लेकर मतदान होना|वहीं 10 नवंबर को मतगणना के बाद नतीजे आएंगे|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *