Gangs Of Wasseypur: महताब आलम उर्फ नन्हे खान हत्याकांड में 7 गिरफ्तार..

धनबाद पुलिस को महताब आलम उर्फ नन्हे हत्याकांड में बड़ी सफलता मिली है. हत्या में शामिल शूटर सहित 7 क्रिमिनल्स को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. पुलिस ने घटना में प्रयुक्त दोनों पिस्टल सहित कई सामान भी बरामद की है. इस बात की जानकारी एसएसपी संजीव कुमार ने पत्रकारों को दी. एसएसपी श्री कुमार ने बताया कि पुलिस ने शूटर डिक्की अंसारी उर्फ मुरतूजा अंसारी, शूटर मो अनवर उर्फ रहमत के अलावा मो राशिद हसन, आजाद आलम उर्फ आजाद खान, अरशद खान उर्फ पच्चु, मो शहवाज आलम और मो सद्दाम कुरैशी को गिरफ्तार किया गया है. साथ ही हत्या में प्रयुक्त दो पिस्टल, 6 गोली, 8 मोबाइल, 8 बम, एक बाइक जब्त किया गया है. इस दौरान सिटी एसपी आर रामकुमार, एएसपी मनोज स्वर्गियारी, डीएसपी वन अमर कुमार पांडेय व थाना प्रभारी रणधीर कुमार उपस्थित थे.

ऐसे पहुंची पुलिस..
गौरतलब है कि, जिस मोबाइल फोन से प्रिंस का वीडियो वायरल हुआ था, वो 25 नवंबर से बंद था और पुलिस सोमवार को टावर लोकेशन के जरिए लड्डन की दुकान पर पहुंची. लड्डन पर गैंगस्टर प्रिंस खान का वीडियो वायरल करने का आरोप है. वीडियो में प्रिंस खान ने नन्हें की हत्या की जिम्मेदारी लेते हुए कहा था कि उसने ही नन्हें खान को मारा है. वासेपुर पुलिया के पास महताब आलम उर्फ नन्हे को उस वक्त गोली मार दी गई थी जब वो भूली मोड़ के आगे अली नगर जा रहा था. बाइक सवार बदमाशों ने उस पर ताबड़तोड़ फायरिंग की थी. पूछताछ के दौरान लड्डन ने बताया कि उसे वासेपुर की एक लड़की ने मरम्मत के लिए मोबाइल फोन दिया था. इस बीच, धनबाद पुलिस की एक अलग टीम ने औरंगाबाद जिले से चांद खान को भी गिरफ्तार किया, जिसके नाम से प्रिंस फोन का इस्तेमाल कर रहा था.

एसएसपी ने बताया कि नन्हे की हत्या करने के बाद दोनों शूटर अनवर व डिक्की भाग गये थे. मंगलवार की सुबह पुलिस को सूचना मिली कि दोनों शूटर सहित सातों आरोपी प्रिंस खान के वासेपुर ऑफिसर फॉर्म हाउस ग्राउंड केे पास छिपे थे. इस दौरान इन क्रिमिनल्स ने दहशत फैलाने के लिए हथियार, बम के अलावा कई सामान लेकर जुटान हुआ था.

लेकिन, इससे पहले ही दल-बल के साथ मौके पर पहुंची पुलिस ने चारों तरफ से फार्म हाउस को घेर लिया और उसके बाद फार्म हाउस के घर में प्रवेश कर शूटर समेत सातों आरोपियों को पकड़ने में सफल हुए. बता दें कि पुलिस ने गत 26 नवंबर, 2021 को प्रिंस खान की मां नासरिन खातून, राजा भोमा का भाई आदिल खान उर्फ अमन व ब्रजेश कुमार शर्मा को पहले ही जेल भेज चुकी है. इस मामले में अभी तक कुल 10 आरोपी जेल जा चुके हैं.

ऐसे शुरू हुई वासेपुर गैंगवार..
बता दें कि, 12 मई 2021 को जमीन कारोबारी लाला खान को वासेपुर में दिनदहाड़े गोली मार दी गई थी. 6 महीने बाद 24 नवंबर 2021 को वासेपुर में ही जमीन कारोबारी महताब आलम उर्फ नन्हे की भी हत्या कर दी गई. खास बात ये थी कि जिस स्थान पर नन्हे की हत्या हुई उससे कुछ ही दूरी पर लाला खान की हत्या हुई थी. इस हत्या को लाला खान की हत्या का बदला कहा जा रहा है. ये दावा वासेपुर के डॉन के नाम से मशहूर फहीम खान के बागी भांजे प्रिंस खान का है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *