जल्द ही टाटानगर और पटना के बीच चलेगी वंदे भारत एक्सप्रेस….

दक्षिण पूर्व रेलवे ने हाल ही में एक महत्वपूर्ण योजना का खुलासा किया है, जिसमें टाटानगर और पटना के बीच वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन चलाने की तैयारी की जा रही है. यह नई ट्रेन टाटानगर से भोजूडीह और गोमो होते हुए केवल सात घंटे में पटना पहुंचेगी, जिससे यात्रियों के लिए एक सुविधाजनक और समय-बचत करने वाला विकल्प उपलब्ध होगा.

टाटानगर में मेंटेनेंस सेंटर का निर्माण

इस परियोजना के तहत, टाटानगर में एक अत्याधुनिक मेंटेनेंस सेंटर का निर्माण भी किया जा रहा है. यह सेंटर वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन की रखरखाव और मरम्मत की जिम्मेदारी निभाएगा. वर्तमान में, टाटानगर से पटना जाने वाली ट्रेनों को आसनसोल में इंजन बदलने की आवश्यकता होती है, जिससे काफी समय बर्बाद होता है. नए मार्ग और मेंटेनेंस सेंटर के माध्यम से यह समस्या हल हो जाएगी, जिससे यात्रियों का समय और ऊर्जा दोनों की बचत होगी.

अलग-अलग रास्तों पर विचार

रेलवे प्रशासन इस नई ट्रेन के लिए अलग-अलग रास्तों पर विचार कर रहा है ताकि अधिक से अधिक यात्रियों को इसका लाभ मिल सके। वर्तमान में, टाटानगर से पटना जाने वाली ट्रेनों को आसनसोल में इंजन बदलना पड़ता है, जिससे समय की बर्बादी होती है. नए रास्ते के माध्यम से इस समस्या को दूर किया जाएगा और धनबाद के यात्रियों को भी सीधा लाभ मिलेगा.

अभी आधिकारिक पुष्टि नहीं

हालांकि, रेलवे ने अभी तक आधिकारिक रूप से इसकी पुष्टि नहीं की है, लेकिन सूत्रों का कहना है कि जल्द ही इस ट्रेन का परिचालन शुरू हो सकता है. यह ट्रेन आठ कोचों के साथ चलेगी और इसकी स्पीड 130 से 160 किलोमीटर प्रति घंटे तक होगी.

प्रारंभिक मरम्मत और रखरखाव

वंदे भारत एक्सप्रेस की प्रारंभिक मरम्मत का काम पटना के पाटलिपुत्र कोचिंग कॉम्प्लेक्स में होगा. यह कॉम्प्लेक्स ट्रेन की प्रारंभिक मरम्मत और निरीक्षण का कार्य करेगा, जिससे ट्रेन हमेशा अच्छे हालत में रहेगी और यात्रियों को किसी भी प्रकार की असुविधा का सामना नहीं करना पड़ेगा.

संभावित मार्ग

इस ट्रेन को नए मार्ग पर चलाने की योजना बनाई जा रही है, जिसमें टाटानगर -पुरूलिया-अनारा-भोजूडीह-महुदा-गोमो-कोडरमा-गया-जहानाबाद -पटना शामिल हैं. हाल ही में टाटा – पटना स्पेशल ट्रेन इस मार्ग से चलाई गई थी, जो मात्र आठ घंटे में पटना पहुंच गई थी. इस मार्ग से वंदे भारत एक्सप्रेस के चलने से दक्षिण पूर्व रेलवे अपने अधिकतम स्टेशनों को कवर कर सकेगा, जिससे यात्रियों को अधिक सुविधाएं मिलेंगी.

संभावित समय

वंदे भारत एक्सप्रेस का संभावित समय टाटानगर से सुबह 6 बजे होगा और यह दिन के एक बजे तक पटना पहुंचेगी. इसके बाद यह ट्रेन दोपहर 2 से 3 बजे के बीच पटना से प्रस्थान करेगी और रात 10 से 11 बजे के बीच टाटानगर पहुंचेगी. यह ट्रेन सप्ताह में 6 दिन चला करेगी, जिससे यात्रियों को नियमित रूप से सेवा प्राप्त होगी.

यात्रियों के लिए फायदेमंद

यह नई ट्रेन सेवा यात्रियों के लिए अत्यंत फायदेमंद साबित होगी. इससे न केवल समय की बचत होगी, बल्कि यात्री अधिक आरामदायक और सुविधाजनक यात्रा का आनंद ले सकेंगे. वंदे भारत एक्सप्रेस की आधुनिक सुविधाओं और उच्च गति के कारण, यात्रियों को एक उत्कृष्ट यात्रा अनुभव मिलेगा.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *