एसीबी ने गोविंदपुर थाना के प्रशिक्षु दरोगा मुनेश तिवारी को किया गिरफ्तार

एंटी क्रप्शन ब्यूरो (एसीबी) की टीम लगातार बढ़ते भ्रष्टाचार और भ्रष्ट कर्मचारियों के खिलाफ लगातार काम कर रही है। इसी बीच, एसीबी धनबाद की टीम ने गुरुवार को गोविंदपुर थाना के प्रशिक्षु दरोगा मुनेश तिवारी को 50 हजार रुपए घुस लेते हुए रंगे हाथ दबोचा। शिकायतकर्ता ने बताया कि मुनेश तिवारी ने कोयला के एक व्यवसायी के केस को रफादफा करने के लिए दो लाख रूपए मांगा था। शिकायत होने के बाद एसीबी की टीम ने मुनेश तिवारी को घुस लेते हुए गिरफ्तार कर लिया।

20 दिनों पहले पुलिस ने गोविंदपुर के एक कोयला भट्टा से अवैध कोयले का ट्रक पकड़ा था। जिसके बाद कोयला व्यवसायी गणेश पांडेय का नाम केस में दर्ज किया गया था। जहाँ गणेश पांडेय ने खुद को कोयला भट्टा के मामले से असंबंधित बताया है, वहीँ मुनेश तिवारी उसे फ़ोन कर केस से नाम हटवाने के लिए रिश्वत की मांग कर रहा था।

शिकायत दर्ज होने के बाद एसीबी ने मामले की करवाई की। मुनेश तिवारी थाने के सामने एक चाय की दूकान पर गणेश पांडेय से 50 हज़ार की रकम लेते हुए पकड़ा गया। इसके बाद, गोविंदपुर थाना की पुलिस और एसीबी की टीम के बीच हलकी बहसबाज़ी भी हुई। आखिरकार एसीबी की टीम मुनेश तिवारी को लेकर धनबाद कार्यालय ले गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *