साहिबगंज डीएमओ विभूति कुमार रांची के ईडी ऑफिस पहुंचे..

मनी लाउंड्रिंग मामले में झारखंड की निलंबित महिला आईएएस पूजा सिंघल ईडी की रिमांड पर हैं। उनसे पूछताछ जारी है। इस बीच डीएमओ से भी पूछताछ की जा रही है। इसी क्रम में आज साहिबगंज डीएमओ विभूति कुमार रांची के ईडी ऑफिस पहुंचे। बताया जा रहा है कि वे स्कूटर से ईडी ऑफिस पहुंचे थे। ईडी के दो समन के बाद साहिबगंज के जिला खनन पदाधिकारी (डीएमओ) आज सोमवार को प्रवर्तन निदेशालय के जोनल ऑफिस पहुंचे थे। अपनी बेटी की शादी का हवाला देकर दो बार उन्होंने ईडी से राहत मांगी थी और फिर 15 दिन का समय मांगा।

बता दें की इससे पहले ईडी ने दुमका और पलामू के जिला खन पदाधिकारियों से भी पूछताछ की है। ईडी अवैध खनन और काले धन के तार को सुलझाने के लिए राज्य के अलग अलग जिलों के डीएमओ से पूछताछ कर रही है। दरअसल निलंबित आईएएस अधिकारी पूजा सिंघल की गिरफ्तारी के बाद ईडी हुई पूछताछ में यह बात सामने आई के अवैध माइनिंग के काला धन का बड़ा शेयर सत्ता के गलियारे तक पहुंचता है। उनके बाद ईडी ने इस मामले में जांच और तेज़ कर दी है।

क्या है साहिबगंज की अवैध माइनिंग और राजधानी का कनेक्शन?
दरअसल प्रदेश में साहिबगंज एक ऐसा जिला माना जाता है जहां सबसे ज्यादा अवैध माइनिंग हो रही है और इस से हासिल होने वाला काला धन सत्ता के गलियारे तक पहुंचता है। इसका अंदाजा ऐसे ही लगाया जा सकता है कि साहिबगंज के डीएमओ पिछले 4 साल से उसी जिले में पोस्टेड हैं, जबकि हर 3 साल पर ऐसे पदाधिकारियों के ट्रांसफर हो जाता है। ऐसा भी माना जाता है कि साहिबगंज के नियमों को जिले के एक विधायक प्रतिनिधि का संरक्षण प्राप्त है जिनकी सत्ता के गलियारे में काफी पकड़ मानी जाती है।

25 मई तक रिमांड पर हैं निलंबित आइएएस पूजा सिंघल..
निलंबित आइएएस पूजा सिंघल फिलहाल ईडी की रिमांड पर हैं। उनके सामने ही सभी जिला खनन पदाधिकारियों से पूछताछ हुई है। निलंबित आइएएस पूजा सिंघल आगामी 25 मई तक रिमांड पर हैं। इसके बाद संभव है अब उनके लिए रिमांड नहीं मिले और उन्हें न्यायिक हिरासत में जेल जाना पड़े। सोमवार की दोपहर उनकी बेटी उनसे मिलने के लिए पहुंची थी।

रिमांड आवेदन में तीन डीएमओ को ईडी ने बताया था संदिग्ध..
ईडी की विशेष अदालत में निलंबित आइएएस पूजा सिंघल का रिमांड बढ़ाने के लिए ईडी ने जो तर्क दिया था, उसके अनुसार साहिबगंज, पाकुड़ व दुमका के डीएमओ को संदिग्ध बताया था। ईडी के अधिकारी पूर्व में तीन-तीन दिनों तक पाकुड़ व दुमका के डीएमओ से पूछताछ कर चुके हैं। अब साहिबगंज के डीएमओ से पूछताछ शुरू हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.