झारखंड विधानसभा घेरने जा रहे आजसू नेताओं को पुलिस ने रोका, सुदेश ने सरकार पर बोला हमला..

झारखंड में स्थानीय नीति तय करने का मामला और तूल पकड़ रहा है. सोमवार को इस मुद्दे पर झारखंड विधानसभा के अंदर और बाहर विधायकों ने प्रदर्शन किया. इसी मुद्दे पर झारखंड विधानसभा का घेराव करने जा रहे आजसू पार्टी के कार्यकतार्ओं को पुलिस ने रांची की बाहरी सीमाओं पर जहां-तहां रोक दिया. इधर झारखंड विधानसभा की कार्यवाही शुरू होने से पहले बीजेपी के विधायकों के साथ आजसू विधायक लंबोदर महतो ने भी विधानसभा के मुख्य द्वार पर धरना दिया और नारेबाजी की. धरना पर बैठे विधायक लंबोदर महतो ने कहा कि सरकार को 1932 खतियान आधारित स्थानीय नीति लागू करनी होगी. वहीं विधायक ढुल्लूमहतो ने कहा कि जब से यह सरकार बनी है स्थानीयता और भाषा के नाम पर जनता को बरगला रही है. सरकार को स्पष्ट करना चाहिए कि झारखंड में स्थानीय कौन हैं. सदन में भी मामला आया लेकिन सरकार का कोई स्पष्ट जवाब नहीं आया. उन्होंने कहा कि आज ही जब मैं अपने क्षेत्र से निकला तो रास्ते भर युवाओं का जत्था सड़क पर आंदोलनरत था. यह सरकार की नाकामी को दशार्ता है. सरकार को जल्द स्थानीय नीति स्पष्ट करनी होगी.

इधर आजसू पार्टी के अध्यक्ष एवं सिल्ली के विधायक सुदेश महतो पुलिस की कार्रवाई के विरोध में विधानसभा में हेलमेट पहनकर पहुंचे. उन्होंने कहा कि सरकार यह बताए कि क्या वाजिब मुद्दों को लेकर जनता को प्रदर्शन की इजाजत है या नहीं? आजसू सुप्रीमो सुदेश महतो ने कहा कि खतियान आधारित स्थानीय नीति, पिछड़ा आरक्षण एवं अन्य मांगों को लेकर पार्टी कार्यकर्ता विधानसभा घेराव करने जा रही है. लेकिन, पार्टी कार्यकर्ता और समर्थकों को पुलिस द्वारा जगह-जगह रोका जा रहा है. गिरफ्तारियां हो रही है. बैरिकेड लगा दिये गये हैं. निषेधाज्ञा लगायी गयी है. कहा कि ये जनभावना का ज्वार है. दबाना आसान नहीं है.

निर्दलीय विधायक सरयू राय ने जताया विरोध..
निर्दलीय विधायक सरयू राय और बीजेपी के विधायक भानु प्रताप शाही ने भी राजधानी में जहां-तहां लोगों को रोके जाने पर विरोध जताया. सरयू राय ने कहा कि उन्हें तो मॉर्निंग वॉक करने से भी रोका गया. बीजेपी विधायक शशिभूषण मेहता ने पुलिस पर दुर्व्यवहार का आरोप लगाया. हंगामे के बीच कांग्रेस विधायक बंधु तिर्की ने कहा कि सरकार इस मुद्दे पर सर्वदलीय बैठक बुलाकर जल्द स्थानीय नीति तय करे. बता दें की राजधानी में विधि-व्यवस्था बनाए रखने तथा कोविड प्रोटोकॉल के वर्तमान प्रावधानों का हवाला देते हुए रांची जिला प्रशासन ने कई जगहों पर धारा 144 लागू कर दी अनुमंडल दंडाधिकारी सदर रांची दीपक कुमार दूबे की ओर से जारी आदेश के अनुसार लोगों को जुलूस या प्रदर्शन के लिए एकत्र होने से रोकने के लिए प्रभात तारा मैदान, हरमू मैदान, अरगोड़ा मैदान, शहीद मैदान में धारा 144 लागू की गई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *