जीआईएस सबस्टेशन द्वारा 24 घंटे हो सकेगी स्मार्ट सिटी में बिजली आपूर्ति..

राज्य का पहला गैस इंसुलेटेड सबस्टेशन का कार्य बिजली ट्रांसमिशन निगम ने कर लिया है | यह राज्य का पहला गैस इंसुलेटेड सबस्टेशन है | इससे निर्माणाधीन स्मार्ट सिटी में बिजली आपूर्ति का कार्य होगा | आपको बता दे की, जीआईएस सबस्टेशन नई तकनीक से बना है। इस तकनीक से निर्माण में मात्र एक चौथाई जमीन की जरूरत होती है। हालांकि निर्माण कार्य में लागत अधिक बढ़ जाती है। रांची स्मार्ट सिटी कॉरपोरेशन लिमिटेड ने इस तकनीक के साथ सब स्टेशन निर्माण का प्रस्ताव रखा था | जिसके बाद झारखंड उर्जा संचारण निगम लिमिटेड ने इसका कार्य शुरू किया। यह सबस्टेशन पूरी तरह भूमिगत यानि ज़मीन के अंदर है। जिससे, आंधी-पानी का कोई असर नहीं होता है।

दरअसल ,स्मार्ट सिटी के एरिया बेस्ड डेवलपमेंट क्षेत्र (656.3 एकड़ जमीन) में जीआईएस सब स्टेशन से बिजली आपूर्ति होगी। जीआईएस सब स्टेशन से सीधे नये निर्मित चार सब स्टेशन को बिजली आपूर्ति की जाएगी। इससे स्मार्ट सिटी में 24 घंटे बिजली आपूर्ति हो सकेगी। हालांकि ,इसके निर्माण में लगभग 2.5 वर्ष का समय और लगभग 226 करोड़ रुपए खर्च हुए हैं। इस सबस्टेशन से निर्माण धीन स्मार्ट सिटी में बिजली आपूर्ति की जाएगी। 220 केवी हाइटेंशन लाइन जो ऊंचे टॉवर के माध्यम से जोड़ी जाती है। इस सबस्टेशन के लिए हटिया ग्रिड-2 से करीब 6 किमी भूमिगत करके जैप आईटी तक लाकर जोड़ी गई है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *