सीएम के बाएं और दाहिने हाथ पर ईडी का कसता शिकंजा, क्या हेमंत सोरेन भी है रडार में..

रांची: आईएस पूजा सिंघल व सीएम के जनप्रतिनिधि पंकज मिश्रा के बाद अब ईडी कभी भी झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के राजनीतिक सलाहकार अभिषेक प्रसाद उर्फ पिंटू की गिरफ्तारी कर सकती है. जैसा की ज्ञात हो 01 अगस्त को ही ईडी ने इन्हें पूछताछ के लिए अपने कार्यालय बुलाया था. लेकिन, इन्होंने मॉनसून सत्र का हवाला देते हुए 15 दिनों की मोहलत मांगी. हालांकि ईडी की ओर से इन्हें मोहलत नहीं दी गई. जिसके बाद इन्हें बुधवार को ईडी के दफ्तर आना पड़ा. फिलहाल, सूत्रों से मिली जानकारी के देर शाम तक पूछताछ के बाद ईडी की टीम ने उन्हें जाने दे दिया है. 04 अगस्त को फिर पूछताछ होगी. ऐसे में संभावनाएं लगायी जा रही है कि संतोषजनतक जानकारी नहीं मिली तो ईडी उन्हें भी गिरफ्तार कर सकती है.

दरअसल, ईडी ने खनन पट्टा आवंटन, मनी लॉन्ड्रिंग और अवैध खनन मामले में उन्हें पूछताछ के लिए बुलाया था. पंकज मिश्रा से पूछताछ के दौरान सीएम के प्रेस सलाहकार अभिषेक प्रसाद उर्फ पिंटू का भी विवरण सामने आया था. जिसके बाद ईडी को लीड मिली और वह सीएम के राजनीतिक सलाहकार तक पहुंच पाई.

पूछताछ के बाद पंकज मिश्रा को ईडी ने लिया था हिरासत में..
गौरतलब है कि कुछ इसी तरह ईडी ने हेमंत सोरेन की विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा को भी पूछताछ के लिए ईडी कार्यालय बुलाया था. वे सुबह करीब 10:30 बजे ईडी कार्यालय पहुंच भी गए थे और शाम तक खबर आई कि उन्हें ईडी द्वारा गिरफ्तार कर लिया गया. जिसके बाद कोर्ट ने उन्हें पहले 6 दिन के रिमांड पर भेजा और आज तक वे रिमांड पर ही है. फिलहाल, पंकज मिश्रा की तबीयत खराब है और वह रांची के रिम्स में भर्ती है. डॉक्टरों की मानें तो उन्हें कई तरह की बीमारियां है और उनकी हालत गंभीर बतायी जा रही है.

साहेबगंज में ईडी ने की छापेमारी..
आपको बता दें कि अभिषेक प्रसाद को समन जारी करने के बाद ईडी साहिबगंज में छापेमारी के लिए भी गई थी जहां उन्होंने बड़े पैमाने पर अवैध खनन की जानकारी हासिल की. यही नहीं, सूत्रों के अनुसार जिस पानी के जहाज से तस्करी की जा रही थी, उसे ईडी ने सीज भी कर लिया है.

हेमंत सोरेन को लेकर चर्चाएं गरम..
राजनीतिक गलियारे में चर्चाएं गर्म है. कहा जा रहा है कि जिस तरह ईडी ने हेमंत सोरेन के बाएं और दाएं हाथ पर कब्जा कर लिया है कहीं हेमंत सोरेन भी तो चपेटे में नहीं आ जाएंगे. गौरतलब है कि मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के पास खनन विभाग है और पूरा मामला अवैध खनन से ही जुड़ा हुआ है. ऐसे में चर्चाएं हेमंत सोरेन को लेकर भी जारी है. इधर, ईडी की चपेटे में पूजा सिंघल भी है, फिलहाल वे भी बेल के लिए तड़प रही हैं. अबतक कुल तीन बार उनकी जमानत याचिका खारिज कर दी गई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *