राज्य में फिलहाल बर्ड फ्लू का खतरा नहीं लेकिन सतर्क रहने की है जरूरत ..

झारखंड के लोगों के लिए राहत भरी खबर है| बर्ड फ्लू से फिलाहल राज्य बिलकुल सुरक्षित है| यहां अब तक बर्ड फ्लू का एक भी मामला सामने नहीं आया है। राज्य के अलग-अलग जिलों में मृत पाए गए कौए व दूसरे पक्षियों के सैंपल की जांच में बर्ड फ्लू की पुष्टि नहीं हुई है। कृषि पशुपालन एवं सहकारिता विभाग, झारखंड सरकार के अंतर्गत संचालित पशुपालन निदेशालय की तरफ से जिला पशुपालन कार्यालय को भेजे गए पत्र में इस बात की जानकारी दी गई है कि अलग-अलग जगहों पर मृत मिले जंगली पक्षियों- कौआ, मैना, कबूतर में अब तक संक्रमण की पुष्टि नहीं हुई है।

दूसरी तरफ, राज्य में कुक्कुट, बत्तख जैसे पालतू पक्षियों के मृत्यु की अब तक कोई कोई सूचना प्राप्त नहीं हुई है। पत्र में कहा गया है कि पक्षियों की मौत देखकर आमलोग भयभीत हो रहे हैं। ऐसे में जरूरी है कि वो डरें नहीं बल्कि सावधानी बरतें। ऐसी परिस्थिति में मृत पक्षियों को न छूएं तथा नजदीकी पशु चिकित्सालय, जिले अथवा राज्य स्तर पर जारी हेल्पलाइन नंबर 9835152390 पर तत्काल इसकी जानकारी दें।

पत्र में ये भी कहा गया है कि इस रोग पर पशुपालन विभाग की ओर से पूरी सतर्कता बरती जा रही है। कहीं भी मृत पक्षियों की सूचना मिलने पर त्वरित कार्रवाई की जा रही है। उनके नमूने को जांच के लिए भेजा जा रहा है। इसके बाद अगर जांच में कहीं भी पॉजिटिव नमूना पाया जाएगा तो इसकी सूचना केंद्र सरकार द्वारा दी जाएगी। इसके बाद राज्य सरकार के पशुपालन विभाग की ओर से संबंधित अधिसूचना जारी की जाएगी। विभाग ने लोगों से अपील की है कि वो अफवाहों का हिस्सा ना बनें तथा सतर्क रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *