रांची के कॉलेज में लगी होली खेलने पर रोक, जानिए क्या है वजह..

झारखंड के स्कूल-कॉलेज कोरोना काल में लगातार बंद थे और संस्थान में होली पर छुट्टी होने से पहले जो छात्र या छात्रा आपस में रंग और गुलाल खेलकर खुशियां मनाते थे, वो परंपरा भी बीते कुछ साल से कोरोना के कारण बंद थी. मामले में कमी दर्ज की गई और संस्थान खुले तो इस बार होली पर विद्यार्थियों का मूड धमाल करने का थे लेकिन रांची के डीएसपीएमयू में होली मनाने पर ही रोक लगा दी गई है. एक नोटिस जारी करते हुए विश्वविद्यालय प्रबंधन ने कहा है कि होली का सामूहिक उत्सव मनाने पर विद्यार्थियों पर कार्रवाई की जाएगी. मामले को लेकर विद्यार्थियों में आक्रोश है.

रांची के डीएसपीएमयू के विद्यार्थियों ने विश्वविद्यालय प्रबंधन से होली मनाने के लिए अनुमति मांगी थी. इसके बाद विश्वविद्यालय की ओर से सूचना पट पर एक नोटिस जारी करते हुए कहा गया है कि विश्वविद्यालय परिसर में होली का सामूहिक उत्सव मनाने की आधिकारिक अनुमति प्रदान नहीं की गई है. अगर किसी प्रकार का कोई सामूहिक कार्यक्रम विश्वविद्यालय परिसर में होता है तो वैसे विद्यार्थियों को चिन्हित कर कार्रवाई की जाएगी. डीएसपीएमयू के रजिस्ट्रार नमिता सिंह के हस्ताक्षर से जारी की गई सूचना जारी होते ही प्रबंधन के खिलाफ विद्यार्थियों का गुस्सा फूट पड़ा और विद्यार्थी विश्वविद्यालय परिसर में जमकर हंगामा करने लगे.

इस दौरान रजिस्ट्रार के साथ विद्यार्थियों की गरमा गरम बहस भी हुई. मौके पर एक दूसरे को देख लेने की धमकी तक दे दी गई. होली के दौरान कोरोना काल को छोड़ दें तो प्रत्येक वर्ष कॉलेज, विश्वविद्यालय, स्कूल परिसर में विद्यार्थी एक दूसरे के साथ होली खेलते हैं. रंग गुलाल लगाते हैं. लेकिन विश्वविद्यालय द्वारा जारी की गई सूचना के बाद विद्यार्थी डरे हुए हैं. विद्यार्थियों का कहना है कि अगर कोई भी विद्यार्थी एक दूसरे के साथ रंग खेले तो उन पर कार्रवाई हो जाएगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *