झारखण्ड हाईकोर्ट ने अमीषा पटेल की अंतरिम राहत को रखा बरकरार..

झारखंड हाई कोर्ट के जस्टिस आनंद सेन की अदालत में धोखाधड़ी के मामले में अभिनेत्री अमीषा पटेल की याचिका पर सुनवाई हुई।इस दौरान अदालत ने दोनों पक्षों से पूछा कि क्या इस मामले को मध्यस्थता के जरिए सुलझाया जा सकता है।सुनवाई के दौरान कोर्ट ने उन्हें ये मामला आपस में सुलझाने का एक मौका दिया है | इसके लिए दोनों पक्षों को दो सप्ताह में अपना जवाब दाखिल करना है।वहीं , अदालत ने अमीषा पटेल की अंतरिम राहत को बरकरार रखा है | जिसमें उनके खिलाफ किसी भी उत्पीड़क कार्रवाई पर रोक लगाई गई है |

आपको बता दें कि इस मामले में अमीषा पटेल की ओर से हाई कोर्ट में याचिका दाखिल की गई है। जिसमे निचली अदालत में उनके खिलाफ दाखिल शिकायत को निरस्त करने की मांग की गई है।वहीं , सुनवाई के दौरान अजय कुमार सिंह के अधिवक्ता ने अदालत से कहा कि इस मामले को मध्यस्थता के माध्यम से सुलझाए जाने की कोशिश की जानी चाहिए। इस पर अदालत ने दोनों पक्षों से इस पर जवाब मांगा है।

दरअसल, साल 2017 में अजय कुमार सिंह की अमीषा पटेल से मुलाकात हुई |आपको बता दें कि हरमू हाउसिंग कॉलोनी में एक कार्यक्रम के दौरान इनकी मुलाकात हुई थी |इस दौरान अजय सिंह के द्वारा फिल्मों में पैसे लगाने का ऑफर अमीषा पटेल को मिला | जिसके बाद अजय सिंह ने फिल्म देसी मैजिक बनाने के नाम पर ढाई करोड़ रुपये अमीषा पटेल के खाते में ट्रांसफर कर दिए। लेकिन फिल्म नहीं बनने पर अजय कुमार सिंह ने पैसे की मांग की |इसके बाद अमीषा पटेल ने अजय कुमार सिंह को एक चेक दिया था | लेकिन वह बाउंस हो गया। जिसके बाद उन्होंने अमीषा पटेल के खिलाफ निचली अदालत में शिकायतवाद दर्ज कराया। वहीं , इस मामले में निचली अदालत ने अभिनेत्री अमीषा पटेल के खिलाफ वारंट जारी किया था।जिस पर फिलहाल इस पर रोक लगाई गई है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *