चमोली ग्लेशियर आपदा में फंसे झारखंड के 33 लोगों में 17 सुरक्षित होने की सूचना..

बीते दिनों उत्तराखंड के चमोली में आई प्राकृतिक आपदा मे अन्य राज्यों के लोगों साथ झारखंड के श्रमिक भी फंस गए थे। स्टेट कंट्रोल रूम के जरिए इस प्राकृतिक हादसे में कुल 33 लोगों के फंसे होने की जानकारी साझा की गई थी। जिनमें से 17 के सुरक्षित होने की सूचना प्राप्त हुई है, जबकि 16 अब भी लापता हैं।

झारखंड के सुरक्षित लोगों को वापस लाने के लिए स्टेट कंट्रोल रूम ने संबंधित जिलों को सूचना दे दी है। जिन लोगों के सुरक्षित होने की जानकारी स्टेट कंट्रोल रूम को प्राप्त हुई है, उनमें 10 लोग लातेहार जागीर बरियातू के रहनेवाले हैं। लातेहार के रूपलाल सिंह ने मंगलवार को कंट्रोल रूम को फोन कर जानकारी दी थी कि उनके अलावा नौ लोग वहां सुरक्षित हैं लेकिन उनके पास पैसे पर्याप्त नहीं है। वहीं इनके अलावा सात लोग जो सुरक्षित है वो मिहिजाम, जामताड़ा के रहने वाले है।

जिन लोगों के अभी भी लापता होने की सूचना है उनमें रामगढ़ के चार, लोहरदगा के नौ, बोकारो के एक और हजारीबाग के दो लोग शामिल हैं। पूर्वी सिंहभूम हजारीबाग की रहने वाली गीता देवी ने स्टेट कंट्रोल रूम में फोन कर जानकारी दी कि उनके परिवार के दो सदस्य मुकेश झा और सुरेंद्र कुमार मिसिंग हैं व उनसे संपर्क नहीं हो पा रहा है।

वहीं इस हादसे में झारखंड के अलावा अन्य प्रदेशों के आठ लोगोंं के भी फंसे होने की सूचना है, जिनमें एक उत्तर प्रदेश, दो बिहार, दो मध्य प्रदेश और तीन कर्नाटक के हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *